भारत में एक सीईओ को एक साल में कितना वेतन मिलता है? यहां सबसे अधिक वेतन पाने वाले भारतीय सीईओ की सूची दी गई है

वित्त वर्ष 2021-22 में निफ्टी पर टॉप-50 कंपनियों का औसत पारिश्रमिक सालाना आधार पर 22 फीसदी बढ़कर रिकॉर्ड 28.4 करोड़ रुपये हो गया।

CNBC-TV18 की रिपोर्ट के अनुसार, 2017-18 और 2019-20 के बीच इसका औसत लगभग 17-18 करोड़ रुपये था।

एचसीएल टेक के सीईओ सी विजयकुमार भारत में सबसे अधिक वेतन पाने वाले सीईओ हैं। कंपनी ने हाल ही में अपनी वार्षिक रिपोर्ट में कहा था कि विजयकुमार को 16.52 मिलियन डॉलर या लगभग 130 करोड़ रुपये का मुआवजा मिला है।

विप्रो के मुख्य कार्यकारी अधिकारी थियरी डेलापोर्टे को 2021-22 में $ 10.5 मिलियन (लगभग 80 करोड़ रुपये) का वार्षिक पारिश्रमिक मिला।

इंफोसिस के सीईओ सलिल पारेख को वित्त वर्ष 2021-22 के दौरान कुल 71.02 करोड़ रुपये का पारिश्रमिक मिला।

टेक महिंद्रा के सीईओ और प्रबंध निदेशक सी पी गुरनानी को 2021-22 के दौरान पारिश्रमिक में 63.4 करोड़ रुपये मिले

टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज के सीईओ और एमडी राजेश गोपीनाथन ने कंपनी की 2021-22 की वार्षिक रिपोर्ट के अनुसार, वेतन में 26.6 प्रतिशत की वृद्धि देखी। उन्होंने पिछले वित्तीय वर्ष के दौरान कुल 25.75 करोड़ रुपये का मुआवजा लिया

वित्त वर्ष 2021-22 में निफ्टी पर टॉप-50 कंपनियों का औसत पारिश्रमिक सालाना आधार पर 22 फीसदी बढ़कर रिकॉर्ड 28.4 करोड़ रुपये हो गया।